सोशल डिस्टेंस की हो रही अनदेखी, एसडीएम ने बनवाई व्यवस्था, किसान ने लिपिक द्वारा डीएपी एवं यूरिया ब्लैक करने की बात कही

सोशल डिस्टेंस की हो रही अनदेखी, एसडीएम ने बनवाई व्यवस्था, किसान ने लिपिक द्वारा डीएपी एवं यूरिया ब्लैक करने की बात कही
सोशल डिस्टेंस की हो रही अनदेखी, एसडीएम ने बनवाई व्यवस्था, किसान ने लिपिक द्वारा डीएपी एवं यूरिया ब्लैक करने की बात कही
सोशल डिस्टेंस की हो रही अनदेखी, एसडीएम ने बनवाई व्यवस्था, किसान ने लिपिक द्वारा डीएपी एवं यूरिया ब्लैक करने की बात कही
सोशल डिस्टेंस की हो रही अनदेखी, एसडीएम ने बनवाई व्यवस्था, किसान ने लिपिक द्वारा डीएपी एवं यूरिया ब्लैक करने की बात कही
सोशल डिस्टेंस की हो रही अनदेखी, एसडीएम ने बनवाई व्यवस्था, किसान ने लिपिक द्वारा डीएपी एवं यूरिया ब्लैक करने की बात कही
सोशल डिस्टेंस की हो रही अनदेखी, एसडीएम ने बनवाई व्यवस्था, किसान ने लिपिक द्वारा डीएपी एवं यूरिया ब्लैक करने की बात कही

सोशल डिस्टेंस्टिंग की हो रही थी अनदेखी, एसडीएम ने बनवाई व्यवस्था व किसान ने लिपिक द्वारा डीएपी एवं यूरिया ब्लैक करने की बात कही कोरोना गाइडलाइन के मुताबिक सार्वजनिक स्थानों और प्रतिष्ठानों में मास्क पहनकर जाना और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य है फिर वह कोई सहकारी समिति ही क्यों न हो । लेकिन बालाघाट जिले के किरनापुर तहसील से मात्र 3 किलोमीटर दूर सेवा सहकारी समिति मर्यादित बड़गांव में इन गाइडलाइन की धज्जियां उड़ाई रही थी । जिसकी सूचना गांव के ही एक जागरूक ग्रामीण ने किरनापुर एसडीएम को दी गई । तब पुलिस की मदद से वहां व्यवस्थाएं बनाई गई । एसडीएम निकिता मंडलोई ने बताया कि सोसायटी से अनाज के अलावा यूरिया, खाद आदि लेने वालों की वजह से भीड़ बहुत बढ़ गईं थी जिसकी वजह से नियमों का पालन नहीं किया जा रहा था जो गलत है । फिलहाल पुलिस की मदद से नियमों का पालन कराया गया और समिति प्रबंधक के साथ साथ आमजनों को भी समझाइश दी गई। निकिता मंडलोई (एसडीएम,किरनापुर) किसान देवाजी बाहे द्वारा बताया गया कि यहां हमें बाहर निकाला जा रहा है और सोडा नहीं दिया जा रहा है वहीं लिपिक लोकेश भारद्वाज एवं दैनिक वेतन भोगी सोहन बोंडुडे के द्वारा ₹1250 में डी ए पी ₹350 में यूरिया मंसाराम बाहे ( बंडू ) को ब्लैक में बेचने की भी बात कहीं । साथ ही उसने यह भी बताया कि मैं सोडे के लिए कई दिनों से चक्कर काट रहा हूं अब तक मुझे सोडा नहीं मिला है जिससे मैं परेशान हो चुका हूं और जल्दी सोडा नहीं मिला तो लिपिक के खिलाफ उपर शिकायत करूंगा।

परेशान किसान देवजी बाहे

कटंगी तहसील किरनापुर जिला बालाघाट