बैतूल : सोशल डिस्टेशिंग का पालन करते हुए विवाह संस्कार सम्पन्न 50 से भी अधिक रिश्तेदारों ने दिया ऑनलाईन आशीर्वाद दूल्हे के चाचा ने गायत्री विधि से सम्पन्न करवाया विवाह ।

बैतूल : कोरोना संक्रमण के चलते जहां पूरे देश में लॉक डउन चल रहा है वही लॉक डाउन के चलते विवाह जैसे संस्कार भी स्थगित है । विगत दिनों प्रशासन द्वारा सोशल डिस्टेशिंग का पालन करते हुए विवाह संस्कार को अनुमति प्रदान की । जिसके फलस्वरूप आमला , साकरे कॉलोनी निवासी श्री भीमराव देशमुख ( शिक्षा विभाग ) के सुपुत्र चि . चंद्रशेखर एवं बडोरा निवासी श्री राजकुमार धाडसे ( व्यवसाई ) की सुपुत्री सौ . कां . दिक्षा ( आकांक्षा ) का शुभ विवाह 25 अप्रैल को बडोरा में राजकुमार धाङसे के निवास पर सम्पन्न हुआ । जिसमें वर पक्ष से दूल्हे सहित एवं वधु पक्ष दुल्हन सहित के 5 - 5 लोग शामिल रहे । जिसमें दूल्हे के चाचा श्री नामदेव देशमुख ( शिक्षक ) द्वारा गायत्री परिवार के विवाह संस्कार विधि से विवाह सम्पन्न करवाया । चूकि यह विवाह 16 अप्रैल को भव्य आयोजन में सम्पन्न होना था जिसके लिए दोनो पक्षों की विवाह पत्रिका भी कुछ लोगो में बाटेजा चुके थे । जिसके चलते इस विवाह को जूम एपपर ऑनलाईन एक घंटेलाईव दिखाया गया जिसमें 50 से भी अधिक रिश्तेदारों एवं स्नेहीजनों ने ऑनलाईन आशीष प्रदान किया । वर पक्ष के दामाद राजू महाले ने बताया कि विवाह के लिए दोनो पक्ष की लॉन , बाजे , घोड़ा बग्गी , लाईटिंग , फोटोग्राफर एवं सभी बुकिंग हो चुकी थी । जिसमें अधिकांश बुकिंग में एडवांस वापस नही मिल पा रहा है । उन्होंने बताया कि वर चि . चंद्रशेखर इंडियन आईल तिरूचिरापल्ली में कार्यरत है वे विवाह के लिए कुछदिनों की छुट्टी लेकर आये थे उनकी छुट्टी 28 अप्रैल को समाप्त होने वाली थी एवं लॉक डाउन खत्म होते ही वापस उन्हें ड्यूटी ज्वाईन करना था । बाद में उतनी लम्बी छुट्टी मिलना असंभव था एवं इस वर्ष उनके नाम से विवाह के लिए सिर्फ दो ही तिथियाँ थी जिसके चलते यह विवाह इन तिथियों में सम्पन्न कराना अति अनिवार्य था । श्री महाले ने जिला प्रशासन को धन्यवाद दिया कि विवाह जैसे अति आवश्यक कार्यक्रम को सोशल डिस्टेशिंग का पालन करते हुए अनुमति प्रदान की ।