डीआईजी दीपक वर्मा का बैतुल दौरा : महिला अपराध और पुलिस के 24 घण्टे की कार्य करने पर मेन्टल हैल्थ चेकअप पर कार्यशाला आयोजित

डीआईजी दीपक वर्मा का बैतुल दौरा : महिला अपराध और  पुलिस के 24 घण्टे की कार्य करने पर मेन्टल हैल्थ चेकअप पर कार्यशाला आयोजित
डीआईजी दीपक वर्मा का बैतुल दौरा : महिला अपराध और  पुलिस के 24 घण्टे की कार्य करने पर मेन्टल हैल्थ चेकअप पर कार्यशाला आयोजित
बैतूल : - होशंगाबाद रेंज के डीआईजी दीपक वर्मा आज दोपहर बैतूल पँहुचे जंहा उन्होंने पुलिस कंट्रोल रूम पँहुच कर जिले के सभी एसडीओपी की बैठक ली और सभी थानों की जानकारी ली इस दौरान पुलिस आधीक्षक सीमाला प्रसाद,एडीशनल एसपी श्रद्धा जोशी ,एस डीओपी विजय पुंज भी मौजूद रहे, डीआईजी दीपक वर्मा ने मीडिया से भी चर्चा की उन्होंने बताया कि उनकी अभी अभी रेंज में पोस्टिंग हुई है इसलिए बैतूल आये है और यंहा की जानकारी हासिल की है | चर्चा के दौरान डीआईजी वर्मा ने बताया कि थाने में जो शिकायत दर्ज होती है उसकी एक समय सीमा में जांच ही जानी चाहिए फरियादी की बात को सुना जाना चाहिए, वन्ही महिला अपराध की बात करे तो 15 दिन में चालान पेश हो जाना चाहिए, एस सीएसटी एक मामले में कई मामले जाती प्रमाण पत्र के चक्कर मे पेंडिंग हो जाते है उन्हें किस तरह हल किया जाए यह जानकारी सभी एसडीओपी को दी गई है साथ ही अभी थानों में बहुत से मामले पेंडिंग है उसका कारण यह है कि कोरोना के चलते न्यायालय बन्द होने से चालान नही लग पाए है ,पुलिस को आम जनता से दोस्ताना व्यवहार रखना चाहिए जिससे ताकि पुलिस अच्छा काम कर सके लोग भी पुलिस की मदद करेंगे सूचनाएं मिल सकेंगे जिससे अपराधों में कमी लाई जा सकती है| ग्रामीण क्षेत्रों में जो नगर रक्षा समिति में लोग कम कर रहे है उनसे संपर्क बनाए रखना चाहिए और अभी कोरोना को देखते हुए सभी थानों में साफ सफाई का विशेष ध्यान देना है साथ ही थाने में बने हवालातओं की भी पूरी साफ सफाई रहे गन्दगी नही दिखनी चाहिए इन्ही सब बातों को एसडीओपियों को बताया गया है / वही आज दिनाँक 15/07/2020 को पुलिस कंट्रोल रूम में पुलिस कर्मियों के लिए मेन्टल हेल्थ प्रशिक्षण रखा गया जिसमें सभी थानों से 2 पुलिस कर्मी शामिल हुए। कार्यशाला के दौरान 35 पुलिस कर्मियों को मनोचिकित्सक मयंक राजपूत द्वारा प्रशिक्षण दिया गया। यह प्रशिक्षण बैतूल पुलिस द्वारा प्रारम्भ किये गये आसपास अभियान को सफल बनाने के लिए प्रत्येक थाने को प्रशिक्षित बल उपलब्ध कराएगा।