कोरोना वार्ड में भर्ती युवक की मौत, सैंपल की नहीं आई रिपोर्ट : देखे पूरा वीडियो

बैतूल। मुलताई तहसील क्षेत्र के मंगोना कला गांव के एक कोरोना सन्दिग्ध युवक की गुरुवार सुबह जिला अस्पताल के कोविड़-19 वार्ड में इलाज के दौरान मौत हो गई। इसे लेकर लोगों में दहशत का माहौल है। मृतक रविन्द्र पिता नामदेव चिंचोलकर (28) है। रविन्द्र को 12 मई को भर्ती किया गया था और 13 मई को जिला अस्पताल में सेम्पल लिया गया। युवक दो दिन पहले ही पांढुर्ना से आया था, मजदूर है। वह इससे पहले लगातार 3 माह से पांढुर्ना में रह रहा था। युवक पांढुर्ना से आया था इसलिए सेम्पल लिया। बताया जाता है कि उसके परिवार वालो को भी होम आइसोलेट किया गया है और युवक की मौत के बाद मेडीकल टीम गांव पहुंची है। युवक की मौत के बाद जिला अस्पताल की टीम ने बैतूल में ही उसका अंतिम संस्कार किया। इस सम्बंध में जिला अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ. अशोक बारंगा का कहना है कि युवक को बचपन से डायबिटीज की समस्या थी और ऑक्सीजन लेवल कम था। इसलिए उसकी सांस फूल रही थी। कोरोना पॉजिटिव होने की संभावना नहीं है, लेकिन एहतियात के तौर पर सैम्पल लिया है। गाँव वालों को कोई गलतफहमी ना हो और उसके परिवार के लोगों को कोई परेशानी ना हो इसलिए उसका अंतिम संस्कार यहाँ करवाया गया है।