विश्व व्रद्ध दिवस पर पाठाखेड़ा पंचायत के अंतर्गत ग्रामीणों के साथ पौधारोपण कर मनाया ,ग्राम के बुजुर्गों का किया सम्मान।

विश्व व्रद्ध दिवस पर पाठाखेड़ा पंचायत के अंतर्गत ग्रामीणों के साथ पौधारोपण कर मनाया ,ग्राम के बुजुर्गों का किया सम्मान।
विश्व व्रद्ध दिवस पर पाठाखेड़ा पंचायत के अंतर्गत ग्रामीणों के साथ पौधारोपण कर मनाया ,ग्राम के बुजुर्गों का किया सम्मान।
विश्व व्रद्ध दिवस पर पाठाखेड़ा पंचायत के अंतर्गत ग्रामीणों के साथ पौधारोपण कर मनाया ,ग्राम के बुजुर्गों का किया सम्मान।
चिचोली : (पाटाखेड़ा): विश्व व्रद्ध दिवस पर आज ग्राम पाटाखेड़ा ग्रामीणों के साथ अलग अलग कार्यक्रम करके व्रद्ध दिवस मनाया गया । सामुदायिक चिकित्सा अधिकारी अंकिता वरवड़े ने इस दिवस पर ग्रामीणों के साथ पँचायत,मन्दिर व अन्य ग्राम जनो के घरों पर पौधे रोपे गए। अंकिता वरवड़े ने बताया की मानव केवल तन से बुजुर्ग हुए हैं मन से नहीं, छोटे बालक बच्चे और बुजुर्ग दोनों ही लगभग समान से होती है कहते हैं बुढ़ापे में बचपन एक बार फिर लौट आता है आज केवल मेरा यही कहना है सबसे कि आपके घर में भी बड़े बुजुर्ग होंगे, उन्हे रोके टोके नहीं बल्कि उन्हें खुलकर जीने दे, उन्हें अहम महसूस कराएं, उन्हें नजरअंदाज ना करें, उन्हें थोड़ा बहुत अपना काम स्वयं करने दे, थोड़ा समय अपने घर के बुजुर्गों से बैठकर बातें करें, तथा बुजुर्गों का सम्मान करें।World elderly Day, बुजुर्गों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया, इसी के साथ ग्राम की नवयुवक राहुल चंदेलकर ने अपना जन्म दिवस बुजुर्गों का सम्मान करते हुए श्रीफल भेंट किए और साथ ही हमारे बुजुर्गों द्वारा स्वस्थ जीवन के मंत्र बताए गए तथा स्मृति स्वरूप लक्ष्मी तरु( कैंसर औषधि पौधा) के 11 वृक्ष रोपण किया। राहुल चंदेलकर जी कहते हैं कि मैं ब्लड कैंसर जैसी भयानक बीमारी से जूझ रहा था, उन्होंने सामाजिक हित को देखते हुए स्वस्थ जीवन जीने की शैली पर पर चर्चा की , तथा उपस्थित ग्राम की बुजुर्ग ग्राम के सरपंच भागीरथी शिवपाल कवड़े , सचिव राजेंद्र शिवहरे, बलराम गिरी योगेश चंदेलकर, पुलकित जावलकर, लकी आर्य, समेत सभी ग्रामीणों ने राहुल को दीर्घायु और स्वस्थ होने का आशीर्वाद दिया।